Loading...

LAUNDA BADNAAM HUA, JNU Convention Centre, 16.10.2012.mp4

332 views

Loading...

Loading...

Loading...

Rating is available when the video has been rented.
This feature is not available right now. Please try again later.
Published on Oct 16, 2012

लौँडा बदनाम हुआ... 'मामू लौण्डा नाच पार्टी' (पंकज पवन, 'शहर')
आज यानी 16 अक्टूबर 2012 को जेएनयू, सम्मेलन कक्ष में लौण्डा (पंकज पवन) लय में था। उसकी आवाज, अभिनय और संगीत की त्रिवेणी अपने चरम पर थी। आखिरकार लोक में रमी आवाजें क्यों हमारे मन में रस-बस जाती है, लौण्डानाच इसका जवाब है... मौका लगे तो जरूर देखे... एक अच्छी प्रस्तुति के लिए शुक्रिया मामू मृत्युञ्जय प्रभाकर और साथ के लिए शुक्रिया शब्द, स्वतन्त्र मिश्र, रीना केशवानी, गङ्गा सहाय मीणा व मीनाक्षी मीणा। सही कहूँ तो लौण्डे के बदनाम होने की दास्तां सिर्फ सुनने और देखने के लिए ही नहीं वरन् गुनने के लिए भी है... अपने समय के मुद्दे को लोक की नजर देखना और फिर उसी अन्दाज में वापस लोक को सौप देना कोई इस लौण्डे से सीखे। लौण्डा गाता तो कमाल का है ही, उसके साथी भी कम नहीं है लोक धुन को दिल्ली जैसे अँग्रेज शहर में भी बनाए और बचाए रखना काफी सुकूंन देने वाला है... बकौल पंकज पवन जब बिहार और बिहारी किसी अजूबे से कम नहीं तो फिर उसके बदनाम होने की दास्तां भला कमतर क्योंकर होगी...
स्थान - जेएनयू सम्मेलन कक्ष, जेएनयू, नयी दिल्ली-67।
दिनांक - 16 अक्टूबर 2012, समय - 6:40 शाम।
पुखराज जाँगिड़ (PUKHRAJ JANGID)

  • Category

  • License

    • Standard YouTube License

Loading...


to add this to Watch Later

Add to

Loading playlists...