Loading...

Isharon Isharon Mein - Kashmir Ki Kali - Sharmila Tagore & Shammi Kapoor - Hit Hindi Song

3,491,701 views

Loading...

Loading...

Transcript

The interactive transcript could not be loaded.

Loading...

Loading...

Rating is available when the video has been rented.
This feature is not available right now. Please try again later.
Published on Mar 15, 2008

Watch Isharon Isharon Mein - Sharmila Tagore & Shammi Kapoor - Kashmir Ki Kali - Singers: Asha Bhosle & Mohammed Rafi - Music Director: O P Nayyar.

Subscribe and Stay Tuned - http://goo.gl/eXlZ3

Find us on google plus: http://plus.google.com/+rajshri

Follow us on Pinterest: http://www.pinterest.com/rajshrivideos/

Like and Share your favorite videos on Facebook:
https://www.facebook.com/rajshri

Follow us on Twitter: https://twitter.com/Rajshri

  • Category

  • License

    • Standard YouTube License

Comments • 660

Seema Suri
awsome voice of Rafi ji&asha ji,,my favtsinger इशारों इशारों में दिल लेने वाले बता ये हुनर तूने सीखा कहाँ से निगाहों निगाहों में जादू चलाना मेरी जान सीखा है तुमने जहाँ से मेरे दिल को तुम भा गए मेरी क्या थी इस में खता मेरे दिल को तड़पा दिया यही थी वो ज़ालिम अदा, यही थी वो ज़ालिम अदा ये राँझा की बातें, ये मजनू के किस्से अलग तो नहीं हैं मेरी दास्तां से मुहब्बत जो करते हैं वो मुहब्बत जताते नहीं धड़कने अपने दिल की कभी किसी को सुनाते नहीं, किसी को सुनाते नहीं मज़ा क्या रहा जब की खुद कर लिया हो मुहब्बत का इज़हार अपनी ज़ुबां से माना की जान\-ए\-जहाँ लाखों में तुम एक हो हमारी निगाहों की भी कुछ तो मगर दाद दो, कुछ तो मगर दाद दो बहारों को भी नाज़ जिस फूल पर था वही फूल हमने चुना गुलसितां से
View all 2 replies
Hide replies
BRINDAVANAM R
Fantastic Geeth
Shishir C. Paudel
What a song! What a composition by OP Naiyar!! The greatest Rafi Saheb, living legend Aashaji & my favorite evergreen Sammi Kapoor. This is truely Amazing.
View all 2 replies
Hide replies
Akshay Kumar
इशारों इशारों में दिल लेनेवाले बता ये हुनर तूने सिखा कहाँ से निगाहों निगाहों में जादू चलाना मेरी जान सिखा है तुमने जहाँ से मेरे दिल को तुम भा गए, मेरी क्या थी इस में खता मुझे जिसने तडपा दिया, यही थी वो जालिम अदा ये रांझा की बातें, ये मजनू के किस्से अलग तो नहीं हैं मेरी दास्ताँ से मोहब्बत जो करते हैं वो मोहब्बत जताते नहीं धड़कने अपने दिल की कभी, किसी को सुनाते नहीं मज़ा क्या रहा जब के खुद कर दिया हो मोहब्बत का इज़हार अपनी जुबां से माना के जान-ए-जहां लाखों में तुम एक हो हमारी निगाहों की भी कुछ तो मगर दाद दो बहारों को भी नाज़ जिस फूल पर था वही फूल हम ने चुना गुलसिता से
View all 6 replies
Hide replies
Krish Lius
such gold were the days of old
View all 2 replies
Hide replies
Abdul Wali Khan
I wasn't born in this era to remember those good, old days , however, I must admit that the music industry and vocalists and above all else everything was so convincing and wonderful. Woo! India has brought such incomparable gifts to the entire world of Music. Thank you India.
View all 3 replies
Hide replies
bhawna negi
Old is gold 
View all 2 replies
Hide replies
Joshi Neha
Lyrics used to be meaningful those days.
View all 2 replies
Hide replies
M. Rafique Akmal
Ye Ranjha ke baaten ye majnoon k qisse alag to nahi hain meri daastan se.
View all 3 replies
Hide replies
Satya Sharma
Rafi, OP Naiyar, Shammi, the greatest of their times but all gone with time. I am proud that I lived in the same era. "Hue naamwar be nisha kayse kayse, zami kha gai asma kayse kayse.......
Advertisement
When autoplay is enabled, a suggested video will automatically play next.

Up next


to add this to Watch Later

Add to

Loading playlists...